Hindi Shayari

प्यार के दो लफ्जो में बिकते आये हम

Pyar Ke Do Lafz Shayari

 

कभी संभले तो कभी बिखरते आये हम,
जिंदगी के हर मोड़ पर खुद में सिमटते आये हम,
यूँ तो जमाना कभी खरीद नहीं सकता हमें
मगर प्यार के दो लफ्जो में सदा बिकते आये हम।

 

यह भी देखे: तेरा सब से बात करना मुझे छोड़ कर

मेहनत करने से मुश्किल हो जाती है आसान

Mehnat Karne Ki Shayari

 

दुनिया का हर शौंक पाला नही जाता,
कांच के खिलौनों को उछाला नही जाता,
मेहनत करने से मुश्किल हो जाती है आसान
क्योंकि हर काम तक़दीर पर टाला नही जाता।

 

यह भी देखे: इम्तेहां ज़िन्दगी में आने बहुत है

क्या यही मोहब्बत है शायरी

Kya Yhi Mohabbat Hai Shayari

 

कहते हैं लोग खुदा की इबादत है,
ये मेरी समझ में तो एक जहालत है,
चैन न आए दिल को, रात जाग के गुजरे
जरा बताओ दोस्तों क्या यही मोहब्बत है।

वो क्या जाने दर्द-ऐ-मोहब्बत क्या है

Dard E Mohabbat Shayari In Hindi

 

बरसों गुजर गए रो कर नहीं देखा,
आँखों में नींद थी सो कर नहीं देखा,
वो क्या जाने दर्द-ऐ-मोहब्बत क्या है
जिसने कभी किसी का होकर नहीं देखा।

 

यह भी देखे : मोहब्बत की सच्चाई शायरी

दिल को पत्थर बना लिया शायरी

Dil Ko Pathar Bana Liya Shayari

 

तनहाइयों के शहर में एक घर बना लिया,
रुसवाइयों को अपना मुक़द्दर बना लिया,
देखा है हमने यहाँ पत्थर को पूजते हैं लोग
इसलिए हमने भी अपने दिल को पत्थर बना लिया।

 

 

तू चाहें न चाहें गिला नहीं इसका

Tu Chahe Ya Na Chahe Shayari

 

अपने दिल की जमाने को बता देते हैं,
हर एक राज से परदे को उठा देते हैं,
तू चाहें न चाहें गिला नहीं इसका
जिसे चाह लें हम उसपे जान लुटा देते हैं।

चाहे तो आज़मा के देख ले शायरी

Aazma Ke Dekh Le Shayari

 

संगमरमर के महल में तेरी तस्वीर सजाऊंगा,
अपने इस दिल में तेरे ही ख्वाब जगाऊंगा,
चाहे तो आज़मा के देख ले तेरे दिल में बस जाऊंगा
मैं तो प्यार का हूँ प्यासा तेरे आगोश में मर जाऊॅंगा।

 

यह भी देखे: तेरी बाँहों में दिल नही भरता

रिश्ते निभाना सीखो शायरी

Rishte Nibhana Seekho Shayari

 

कोई टूटे तो उसे सजाना सीखो,
कोई रूठे तो उसे मनाना सीखो,
रिश्ते तो मिलते हैं मुक़द्दर से
बस, उन्हें खूबसूरती से निभाना सीखो।