ढाई अक्षर की बात शायरी

ढाई अक्षर की बात कहने में
कितनी तकलीफ़ उठा रखी है,
तूने आंखों में छिपा रखी है
मैंने होंठों पे दबा रखी है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *