प्यार भरी होली की कविता

Special Romantic Holi Poem For Girlfriend Boyfriend

 

 

आ मेरे पास तुझे अपने हाथों से संवार दूँ,
लाल रंग के गुलाल से तेरे गालों को निखार दूँ.

अंग अंग तेरा रंगो से रंग जाये,
ऐसी रंगो की मैं बौछार दूँ.

सतरंगी हवाएं चल रही है चारो ओर,
उड़ रहे है जो रंग उन गुलालों की फुहार दूँ.

इस कदर तुझे होंठों का जाम-ऐ-बहार दूँ ,
आ मेरे पास तुझे अपने हाथों से संवार दूँ.!!

 

यह भी देखे: अंग से यूँ अंग

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *