बिन तेरे ज़िंदगी प्यासी देखता हूँ

दर्द भरी शायरी बिन तेरे ज़िन्दगी

 

Sad Hindi Shayari | Bin Tere Zindagi Shayari

 

झील की चादर पे फैली मौत सी ख़ामोश उदासी देखता हूँ…
पानी के इतने पास हूँ पर बिन तेरे ज़िंदगी प्यासी देखता हूँ?

 

यह भी देखे: कसमे झूटी झूटा वादा था

Leave a Comment.